Home उत्तर प्रदेश ऑक्सीजन एक्सप्रेस द्वारा अब तक महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में लगभग 4200 मीट्रिक टन ऑक्सीज़न की आपूर्ति की गई

ऑक्सीजन एक्सप्रेस द्वारा अब तक महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में लगभग 4200 मीट्रिक टन ऑक्सीज़न की आपूर्ति की गई

by Shrinews24
0 comment

ऑक्सीजन एक्सप्रेस द्वारा अब तक महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश में लगभग 4200 मीट्रिक टन ऑक्सीज़न की आपूर्ति की गई

अवधेश कुमार श्री न्यूज24
प्रभारी प्रयागराज मंडल

यह आपूर्ति 268 से अधिक टैंकरों में की गई
अब तक 68 ऑक्सीज़न एक्सप्रेस ने अपनी यात्रा पूरी की
कानपुर में भी पहुंची पहली ऑक्सीज़न एक्सप्रेस
अब तक महाराष्ट्र को 293 मीट्रिक टन, उत्तर प्रदेश को 1230 मीट्रिक टन, मध्य प्रदेश को 271 मीट्रिक टन, हरियाणा को 555 मीट्रिक टन, तेलंगाना को 123 मीट्रिक टन, राजस्थान को 40 मीट्रिक टन और दिल्ली को 1679मीट्रिक टन ऑक्सीज़न की आपूर्ति की गई
भारतीय रेल वर्तमान समय में मौजूद चुनौतियों का सामना करते हुए और नए उपायों की तलाश के साथ देश के विभिन्न राज्यों की मांग पर तरल चिकित्सा ऑक्सीजन की आपूर्ति के अपने अभियान को निरंतर जारी रख लोगों को राहत पहुंचा रही है।
रेलवे ने अब तक देश के विभिन्न राज्यों में 268 टैंकरों में लगभग 4200 मीट्रिक टन चिकित्सा उपयोग हेतु ऑक्सीजन की आपूर्ति की है।
इस अभियान के अंतर्गत अब तक 68 ऑक्सीजन एक्सप्रेस की यात्रा पूरी हो चुकी है।
भारतीय रेल, राज्यों की मांग पर यथासंभव मात्रा और कम से कम समय में तरल मेडिकल ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए प्रतिबद्ध है और इस पर लगातार काम कर रही है।
भारतीय रेल द्वारा शुरू किए ऑक्सीजन एक्सप्रेस अभियान के अंतर्गत अब तक महाराष्ट्र को 293 मीट्रिक टन, उत्तर प्रदेश को 1230 मीट्रिक टन, मध्य प्रदेश को 271 मीट्रिक टन, हरियाणा को 555 मीट्रिक टन, तेलंगाना को 123 मीट्रिक टन, राजस्थान को 40 मीट्रिक टन और दिल्ली को 1679 मीट्रिक टन ऑक्सीज़न की आपूर्ति की गई।
अब रेलवे ने और अधिक शहरों में भी ऑक्सीजन की आपूर्ति शुरू कर दी है और इस क्रम में आज कानपुर में पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस से 80 मीट्रिक टन ऑक्सीजन पहुंची।
रेलवे द्वारा की जा रही ऑक्सीज़न की ढुलाई एक जटिल प्रक्रिया है और ढुलाई से जुड़े आंकड़े लगातार अपडेट किए जा रहे हैं। कुछ और ऑक्सीजन एक्सप्रेस देर रात अपने-अपने गंतव्य की ओर रवाना हो सकती हैं।
एमजी एएम डीटी डीसी

You may also like

Leave a Comment