Home प्रादेशिक उत्तराखंड: RT-PCR सैंपल की जांच में बड़े रैकेट का खुलासा..मेडिकल कॉलेज में चल रहा था धंधा

उत्तराखंड: RT-PCR सैंपल की जांच में बड़े रैकेट का खुलासा..मेडिकल कॉलेज में चल रहा था धंधा

by Shrinews24
0 comment

उत्तराखंड: RT-PCR सैंपल की जांच में बड़े रैकेट का खुलासा..मेडिकल कॉलेज में चल रहा था धंधा

सुरेंद्र सैनी रामनगर (नैनीताल)

देहरादून मेडिकल कॉलेज से एक चौंका देने वाली खबर सामने आ रही है। देहरादून मेडिकल कॉलेज के द्वारा एक ऐसे रैकेट का खुलासा किया गया है जो कि काफी लंबे समय से लोगों से पैसे ऐंठ कर देहरादून मेडिकल कॉलेज के लैब में मुफ्त में सैंपल टेस्ट करवा रहा था। यह रैकेट बाहर से आरटीपीसीआर सैंपल जांच के दोगुने रुपए लेता था और उसके बाद इन सैंपलों की जांच दून मेडिकल कॉलेज में मुफ्त में करवा रहा था। हैरान करने वाली बात यह है कि बेईमानी के इस धंधे में देहरादून मेडिकल कॉलेज के ही कुछ स्टाफ मेंबर्स भी शामिल हैं। इसी के साथ एक प्राइवेट लैब के कर्मचारी का नाम भी इसमें सामने आया है। वहीं इस पूरे मामले पर संज्ञान लेते हुए देहरादून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ आशुतोष राणा ने इस पूरे मामले की जांच के लिए सीनियर प्रोफेसर नवीन थपलियाल की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी गठित कर दी है अब यह कमेटी गहराई से इस पूरे मामले की जांच पड़ताल करेगी और इस पूरे मामले की तह तक जाएगी।

आपको बता दें कि उत्तराखंड में सरकार ने प्राइवेट लैब के सैंपल का दाम 500 निर्धारित किया हुआ है। मगर देहरादून में मौजूद एक प्राइवेट पैथोलॉजी का एक कर्मचारी लोगों के घरों के अंदर जाकर उनका आरटी पीसीआर सैंपल लेता था और हर एक व्यक्ति से 800 से लेकर 1200 तक वसूलता था। और फिर पैथोलॉजी का वह कर्मचारी लोगों के सैंपल देहरादून के अस्पताल में भिजवाता था और वहां पर मुफ्त में इन सैंपलों की जांच करवाता था और ऐसा मेडिकल कॉलेज के स्टाफ की मिलीभगत के बिना संभव नहीं है। सूत्रों के अनुसार देहरादून मेडिकल कॉलेज के अंदर बड़ी संख्या में ऐसे सैंपल की खेप आ रही थी जो कि अस्पताल से लिए नहीं जा रहे थे। जब शक हुआ तब लैब स्टाफ ने बाहर से आए सैंपलों में से 12 से अधिक व्यक्तियों के मोबाइल पर संपर्क किया और उनसे पूछताछ की तो सच सुनकर उनके होश उड़ गए। संबंधित लोगों ने बताया कि सहारनपुर रोड स्थित एक प्राइवेट पैथोलॉजी के कर्मचारी ने उनका टेस्ट लिया और इसके बदले में उनसे दुगने रुपए लिए गए।

You may also like

Leave a Comment