Home उत्तर प्रदेश उरई नगर और चौराहों पर खुले है झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिक दुकानदार भी देते है दवाई

उरई नगर और चौराहों पर खुले है झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिक दुकानदार भी देते है दवाई

by Shrinews24
0 comment

उरई नगर और चौराहों पर खुले है झोलाछाप डॉक्टरों के क्लीनिक दुकानदार भी देते है दवाई, सीएमओ कार्यालय औऱ ड्रग अधिकारी क्यो नही दे रहे ध्यान

राहुल कुमार गुप्ता
ब्रजेन्द्र गुप्ता
उरई जालौन

उरई प्रदेश ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर अंकुश पा लिया है और कई जनपदों में इसके मामले अब शून्य हो गए है लेकिन हाल फिलहाल में डेंगू जैसी बीमारी के कारण लोगो की धड़कने बढ़ गई है। जनपद में डेंगू के मरीज निकलने से बेचैनी लोगो की बढ़ी हुई है। एट में मरीज निकलने के बाद विगत दिन अपर निदेशक स्वास्थ्य अल्पना बरतरिया ने भी निरीक्षण किया था और निर्देश दिए थे वही झोलाछाप डॉक्टरों के लिए ये अवसर किसी बड़े मौके से कम नही है जिन्होंने डॉक्टरी की पढ़ाई नही की है वह भी अपना क्लीनिक खोल कर बैठे हुए है औऱ मरीजो को दवाएं देने में मशगूल है। उरई नगर की ही बात ले ली जाए तो मेन चौराहों से लेकर गली मोहल्लों तक मे झोलाछाप डॉक्टर बुखार, जुकाम और अन्य बीमारी की दवाओ को दे रहे है वही अगर मरीज इंजेक्शन लगवाने से डरता नही तो इंजेक्शन भी लगाने से ये गुरेज नही कर रहे। इस कार्य मे दुकानदार भी पीछे नही है एक साथ दो-दो धंधा कर रहे है। तेल शैम्पू बेचने के साथ-साथ विभिन्न मर्ज की दवाई भी दे देते है। मेडिकल भी खूब धड़ल्ले से नगर में चल रहे है इस ओर भी कोई नियम कायदा कानून का पालन नही हो रहा है। नियमानुसार फार्मासिस्ट होना चाहिए जिसको सही सही जानकारी होती है और पर्चे में लिखी दवाई को पढ़ सकता है लेकिन सब राम भरोसे चल रहा है। सीएम कार्यालय का कोई अधिकारी अपनी कुर्सी छोड़कर जमीनी स्तर पर निरीक्षण और कार्यवाही नही करता है इसीलिए जिसकी जो मनमर्जी है वो अपना काम कर रहा है। वही ड्रैग इंस्पेक्टर कभी कभार आते है क्योंकि वो झाँसी से आते है, उनके निरीक्षण से पहले ही सूचना मिल जाती है और सब रफा दफा हो जाता है। वही ऐसा नही है कि नगर और ग्रामीण स्तर पर झोलाछाप डॉक्टरों द्धारा चलाये जा रहे क्लीनिक की जानकारी सीएमओ कार्यालय को न हों परन्तु ऐसे कौन से वो कारण है कि जिसकी वजह से इनको अभयदान मिला हुआ है। खैर अगर खुदा न खास्ता कोई गलत इंजेक्शन या फिर गोली देने से किसी भी मरीज की जिंदगी दांव पर लग जाती है तो उसका जिम्मेदार कौन होगा ये एक बड़ा सवाल है !

You may also like

Leave a Comment