Home उत्तर प्रदेश खानपान में पोषण युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें- डॉ. आर्या

खानपान में पोषण युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें- डॉ. आर्या

by Shrinews24
0 comment

खानपान में पोषण युक्त खाद्य पदार्थों को शामिल करें- डॉ. आर्या

पांच गर्भवती की हुई गोद भराई, दिए गए जरूरी टिप्स

राहुल कुमार गुप्ता
संतोष कुमार
उरई जालौन

उरई राष्ट्रीय पोषण माह के अंतर्गत उरई शहर के मोहल्ला शिवपुरी स्थित आंगनवाड़ी केंद्र पर बुधवार को पोषण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान केंद्र को आकर्षक ढंग से सजाया गया था। कार्यक्रम में पांच गर्भवती की गोद भराई की रस्म पूरी करने के साथ उन्हें जरूरी टिप्स भी दिए गए |
मुख्य अतिथि क्षेत्रीय आयुर्वेदिक यूनानी अधिकारी डा. एमडी आर्या ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया । उन्होंने कहा कि सरकार कुपोषण के खिलाफ अभियान चला रही है। इसके लिए ही सितंबर माह को पोषण माह के रुप में मनाया जा रहा है। हमें अपने खानपान पर विशेष ध्यान देना है। गर्भवती और धात्री को ऐसा भोजन करना चाहिए कि उन्हें खुद भी पोषण मिले और उनके बच्चों को भी पोषक तत्व मिल सके। राजकीय आयुर्वेदिक चिकित्सालय के चिकित्साधिकारी डा. आरके गुप्ता ने कहा कि आयुर्वेद में भी कई ऐसी दवाएं हैं, जो शरीर को पोषक तत्व प्रदान करती हैं । स्वस्थ रहने के लिए खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। तले, भुने पदार्थों को खाने से गर्भवती परहेज करें। भोजन में ऐसे पदार्थों को शामिल करें जिसमें पोषक तत्व हों । योग प्रशिक्षक डॉ रमन कुमार दीक्षित व महिला योग प्रशिक्षक श्रद्धा दुबे ने योग का महत्व बताया। उन्होंने कहा कि योग सबके लिए जरूरी है, लेकिन गर्भवती को योग करते समय खास ध्यान देने की जरूरत है। ऐसा कोई योग न करें, जिससे परेशानी हो। उन्होंने कहा कि गर्भवती योग प्रशिक्षक की सलाह के बाद ही योग करें।
बाल विकास परियोजना अधिकारी विमलेश आर्या ने कहा कि भोजन में दालें, अंकुरित भोजन, हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करें। ऐसे पदार्थों का सेवन करें, जिनमें प्रोटीन और विटामिन सी के स्रोत ज्यादा हों । इसके बाद अधिकारियों ने आंगनबाड़ी केंद्र पर बनाई गई पोषण वाटिका को देखा और आंगनबाड़ी कार्यकर्ता रानी, रेशमा, किरन की सराहना की। कार्यक्रम में आई सुमन, ज्योति, रश्मि, अनुराधा, संगीता आदि महिलाओं ने कहा कि आज इस शिविर में बहुत सीख मिली। विशेष रुप से खानपान के बारे में जानकारी मिली। सबसे अच्छी बात स्वास्थ्य कैंप में आकर डाक्टर को दिखा लिया और दवा भी मिल गई। इस दौरान देविका रानी, प्रतिभा सिंह, शशि आदि मौजूद रहीं ।

शिविर में की गई जांच
आयुर्वेद और योग विभाग की ओर से शिविर लगाकर कार्यक्रम में आई महिलाओं व बच्चों की जांच की गई और उन्हें स्वस्थ रहने के उपाय भी बताए गए। डा. मनीष सचान, डा. रश्मि वशिष्ठ, डा प्रखर चौबे ने महिला व बच्चों की जांच की। शिविर में 94 लोगों की जांच की गई, जिसमें सात महिलाओं में रक्त की कमी पाई गई। डाक्टरों ने उन्हें खानपान में सुधार की सलाह देकर दवाएं दी। महिलाओं व बच्चों का वजन लिया गया और महिलाओं के ब्लड शुगर की जांच की गई।

You may also like

Leave a Comment