Home उत्तर प्रदेश जनाधिकार पार्टी के सम्मेलन में दिखी भारी भीड़

जनाधिकार पार्टी के सम्मेलन में दिखी भारी भीड़

by Shrinews24
0 comment

जनाधिकार पार्टी के सम्मेलन में दिखी भारी भीड़

भाजपा बसपा औऱ सपा पर खूब बरसे बाबू सिंह कुशवाहा

जितनी जिसकी संख्या भारी उतनी उसकी हिस्सेदारी- बाबूसिंह कुशबाहा

राहुल कुमार गुप्ता
अजय राज
कोच जालौन

कोंच आज उरई रोड स्थित जय माँ काली लाज में जना आधिकार पार्टी द्वारा पिछडा वर्ग अनुसूचित जाति व अलसँख्यक प्रतिनिधि सम्मेलन का आयोजन किया गया इस सम्मेलन के मुख्य अतिथि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और प्रदेश के पूर्व मंत्री बाबूसिंह कुशबाहा ने कहा कि सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य पार्टी को बढ़ाना है उन्होंने सबसे पहले भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर हमला बोला उन्होंने कहा कि आज छोटे लोग परेशान है हम लोगो को जागरूक सावधान करने आये है इस सरकार ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है बसपा में पहले कांशीराम ओर अम्बेड कर के सिद्धांत पर पार्टी की बिचार धारा चलती थी आज यह विचारधारा कोसो दूर चली गई अब बहुजन समाज पार्टी में यह नारा लगने लगा है कि जितनी जिसकी थैली भारी उतनी उसकी हिस्सेदारी अब बिना थैली के टिकट नही मिलता है आज छोटे दबे कुचले मजदूर पिछड़े दलितों अल्पसंख्यको का उत्पीड़न किया जा रहा है समाजपार्टी पार्टी जहां पिछड़े नाम पर वोट लेकर काम कुछ नही करती है उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिलाओ बच्चि यों के साथ रेप व हत्या की घटनाये तेजी के साथ बड़ी है आज प्रदेश में महिलाये सुरक्षित नही है उन्होंने कहा कि संकल्प मोर्चा बन गया है आप को मोर्चा के उम्मदीवार को वोट देना होगा तभी आपका हक आपको मिल सकेगा इस दौरान कार्यकम को शिवकुमार कुशवाहा ठेकेदार सुंदर सिंह कुशवाहा मान सिंह कुशवाहा लालू कुशबाहा हनुमन्त सिंह कुशवाहा
प्रधान चमेड अमित कुशवाहा मंगल सिंह कुशवाहा मोहन सिंह रामजी कुशबाहा आदि ने मुख्य अतिथि को चांदी का मुकुट पगड़ी फूल माला ओं से जोर दार स्वागत सम्मान किया इसस पूर्व प्रदेश अध्यक्ष रमेश चंद निषाद महेश प्रकाश रामकरन निषाद बाबूराम पाल जिला अध्यक्ष गयाप्रसाद रविंद्र कुमार कुशवाहा प्रवक्ता गजेंद्र कुशवाहा दीपराज कुशवाहा रामअवतार कुशवाहा रामानंद राजपूत कृपाल कुशवाहा राहुल कुशवाहा अमरा आदि ने सम्मेलन को सम्बोधित किया इस सम्मेलन की अध्यक्षता रामस्वरुप निषाद ने की सम्मलेन से जनपद के कोने कोने से बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे

You may also like

Leave a Comment