Home उत्तर प्रदेशअयोध्या पंचायत सहायक नियुक्ति में गड़बड़ी पर दर्ज होगी एफ आई आर – डीएम अनुज कुमार झा

पंचायत सहायक नियुक्ति में गड़बड़ी पर दर्ज होगी एफ आई आर – डीएम अनुज कुमार झा

by Shrinews24
0 comment

पंचायत सहायक नियुक्ति में गड़बड़ी पर दर्ज होगी एफ आई आर – डीएम अनुज कुमार झा
=====================================≠====
अपर मुख्य सचिव एवं डीएम ने समाधान दिवस में सुनी जन शिकायतें
सम्पूर्ण समाधान दिवस में 184 में केवल सात ममालों का हुआ निस्तारण
➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖➖
जिला संबाद दाता दलबहादुर पाण्डेय अयोध्या श्री न्यूज 24/अदित न्यूज
============== अपर मुख्य सचिव सिंचाई /जल संसाधन एवं प्रतिभूमि (विकास नोडल अधिकारी) टी बेकटेश एवं जिलाधिकारी अनुज कुमार झा की अध्यक्षता में आयोजित सम्पूूर्ण समाधान दिवस में तहसील क्षेत्र से 184 फरियादियों ने अपनी शिकायतें पेश की। प्रस्तुत शिकायतों में से सात मामलों का जिलाधिकारी ने त्वरित निस्तारण करा दिया। निस्तारण से अवशेष 177 मामले संबंधित विभागों के विभागाध्यक्ष एवं उनके प्रतिनिधियों को सौंप दिए गए। जिलाधिकारी ने जन समस्याओं के त्वरित एवं गुणवत्तायुक्त निस्तारण का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि इसमे किसी भी स्तर पर लापरवाही क्षम्य नही होगी।
जिलाधिकारी ने संपूर्ण समाधान दिवस सभागार में मौजूद तहसील क्षेत्र के तीनों विकास खंडों के खंड विकास अधिकारियों सहित अन्य संबंधित विभागाध्यक्ष को कड़े निर्देश दिए कि वर्तमान में ग्राम पंचायतों में पंचायत सहायक डाटा एंट्री ऑपरेटर पद पर नियुक्ति प्रक्रिया गतिमान है जिसमें किसी भी प्रकार की गड़बड़ी कतई नहीं होनी चाहिए उन्होंने कहा कि नियुक्ति प्रक्रिया पूरी पारदर्शिता के आधार पर करें शिकायत मिलने पर संबंधित के विरुद्ध तत्काल निलंबन से लेकर एफ आई आर तक दर्ज कराने की कार्यवाही की जाएगी। समाधान दिवस में ग्राम पंचायत पाराधमथुआ से आए फरियादी आदित्य प्रताप शर्मा ने शिकायत पेश की कि बीते 4 फरवरी 2020 को जिलाधिकारी अयोध्या को शपथ पत्र दिया था। जिसमें बताया गया था कि ग्राम पंचायत में 1 लाख 12 हजार रूपए की लागत से नई स्ट्रीट लाइट लगाई गई थी तथा उसी वित्तीय वर्ष में स्ट्रीट लाइट मरम्मत कराने के नाम पर 55 हजार रुपए का बंदरबांट किया गया था। इसका खुलासा आरटीआई से हुआ था। जिसके बाद शिकायतकर्ता आदित्य प्रताप ने मामले की जांच कराने के लिए जिलाधिकारी को शपथ पत्र दिया था शपथ पत्र का संज्ञान लेने के बाद जिलाधिकारी ने निर्देश पर कार्यालय सहायक निदेशक बचत अयोध्या द्वारा बीते 16 मार्च 2020 जांच की गई तथा पुनः 30 जून 2020 को सहायक निदेशक बचत अयोध्या एवं अन्य अधिकारियों द्वारा ग्राम पंचायत में लगी स्ट्रीट लाइटों की जांच की गई जांच के समय ग्राम पंचायत में एक भी स्ट्रीट लाइट जलते नहीं पाई गई थी। जांच अधिकारियों द्वारा जब स्ट्रीट लाइट के संबंध में पत्रावली ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी से मांगी गई तो वह भी कुछ नहीं दिखा सके थे।
समाधान दिवस में खंडासा थाना क्षेत्र के अघियारी गांव निवासिनी अर्चना मौर्य व मिल्कीपुर विकास खण्ड के गुजरामऊ गांव निवासी कंचन पांडे ने शिकायती प्रार्थना पत्र देते हुए जिलाधकारी से कहा कि ग्राम सभा में पंचायत सहायक भर्ती में सारे नियमों को ताक पर रखकर नियुक्ति की जा रही है। समाधान दिवस में कुमारगंज कस्बे में रह रहे मोहम्मद रजा हैदर ने शिकायत की कि नगर पंचायत कुमारगंज कस्बे में नालिया कूड़े से पटी है और जलभराव है। जिसके चलते आवागमन बदहाल है। इस पर जिलाधिकारी ने अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत कुमारगंज को तलब कर तत्काल जल निकासी प्रबंध कराए जाने के निर्देश दिए। समाधान दिवस में जब तक जिलाधिकारी नहीं पहुंचे थे तब तक रामराज्य छाया रहा और सभागार में मौजूद सभी विभागाध्यक्ष और उनके प्रतिनिधि मोबाइल फोन पर व्यस्त दिखे यही नहीं कुछ तो तहसील सभागार से बाहर परिसर में घूमते व मटरगश्ती करते नजर आए। समाधान दिवस में सबसे ज्यादा मामले ग्राम पंचायतों में गतिमान पंचायत सहायक की नियुक्ति एवं राजस्व तथा पुलिस विभाग से संबंधित रहे। जिले के नोडल अधिकारी टी वेंकटेश ने सभागार में मौजूद विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष एवं उनके प्रतिनिधियों को निर्देश दिए की शिकायतों का गुणवत्ता पूर्ण ढंग से निर्धारित समयावधि के भीतर सम्यक निस्तारण किया जाए। इस मौके पर मुख्य विकास अधिकारी अनीता यादव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी अयोध्या डॉ घनश्याम सिंह, उपजिलाधिकारी मिल्कीपुर दिग्यविजय प्रताप सिंह, तहसीलदार पल्लवी सिंह, खंड विकास अधिकारी मिल्कीपुर मनीष मौर्य, क्षेत्राधिकारी मिल्कीपुर राकेश श्रीवास्तव समेत तहसील स्तरीय अधिकारियों एवं प्रतिनिधियों समेत सर्किल के तीनों थानों कुमारगंज खंडासा और इनायतनगर के प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार सिंह, नीरज सिंह एवं राहुल कुमार प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

You may also like

Leave a Comment