Home प्रादेशिक ससुराल वालों ने बहू को पीट-पीटकर घर से निकाला, दहेज में नहीं मिली थी कार

ससुराल वालों ने बहू को पीट-पीटकर घर से निकाला, दहेज में नहीं मिली थी कार

by Shrinews24
0 comment

ससुराल वालों ने बहू को पीट-पीटकर घर से निकाला, दहेज में नहीं मिली थी कार

श्री न्यूज़ 24
सुरेंद्र सैनी रामनगर नैनीताल

उत्तराखंड उधमसिंह नगर में दहेज में गाड़ी नहीं मिलने पर ससुराल वालों ने नवविवाहिता की जमकर पिटाई की और घर से बाहर निकाल दिया। मामले में पीड़िता ने पुलिस से शिकायत की मगर कोई सुनवाई नहीं हुई। जिसके बाद पीड़िता ने कोर्ट के दरवाजे खटखटाए और कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने पीड़िता के पति, सास और ससुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। शादी के बाद से ही पीड़िता के ससुराल वाले उसके साथ मारपीट करते थे और दहेज लाने का दबाव भी बनाते थे। पीड़िता की सुभाष कालोनी की रहने वाली है। पीड़िता ने कोर्ट को सौंपे गए शिकायती पत्र में बताया कि उसकी शादी 2019 के दिसंबर में खेड़ा के रहने वाले युवक के साथ हुआ था। अपनी बेटी के विवाह में मायके वालों ने जमकर खर्च किया और खूब दहेज बेटी के साथ भेजा। यहां तक कि मंगनी की रस्म में भी पीड़िता के मायके वालों ने खातिरदारी और तोहफे देने में कोई कंजूसी नहीं की।
मायके वालों ने लड़की के ससुरालियों को सोने और चांदी के जेवरात के साथ ही 55 रिश्तेदारों को महंगे कपड़े गिफ्ट किए थे। विवाह के समय मायके वालों ने दिल खोल कर दहेज भी दिया लेकिन उसके ससुराल वाले पैसे के भूखे थे। शायद उनको बहु से नहीं बल्कि दहेज से मोह था। ऐसे में पीड़िता के पति, ससुर और सास उसके मायके वालों के पर कार देने का दबाव बनाने लगे। ससुराल जाते ही वह उसे कम दहेज लाने और कार न मिलने का ताना देकर लगातार मारपीट करने लगे। ससुरालियों ने उसके साथ न केवल मार पिटाई की बल्कि उसका गला दबाकर जान से मारने का प्रयास भी किया। 25 मार्च को उसके ससुरालियों ने दहेज के लिए उसको मायके छोड़ दिया। कोतवाल विजेंद्र शाह ने बताया कि कोर्ट के निर्देश के बाद आरोपियों के ऊपर केस दर्ज कर दिया गया है और मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।

You may also like

Leave a Comment