Home उत्तर प्रदेश बैठक में बैंकों की कार्यप्रणाली से नाराज दिखी जिलाधिकारी

बैठक में बैंकों की कार्यप्रणाली से नाराज दिखी जिलाधिकारी

by Shrinews24
0 comment

बैठक में बैंकों की कार्यप्रणाली से नाराज दिखी जिलाधिकारी

बैंक आँफ बडौदा, एसबीआई, पीएनबी तथा जेडीसी बैंक की मिली खराब स्थिति

राहुल कुमार गुप्ता
संतोष कुमार
उरई जालौन

उरई जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन की अध्यक्षता में डीसीसी एवं डीएलआरसी की बैठक का आयोजन विकास भवन सभागार में किया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि विभिन्न रोजगार परक योजनाओं की लंबित पत्रावलियों का समय से निस्तारण कर लक्ष्य की प्राप्ति सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि बैंकों द्वारा जो भी ऋण पत्रावली को बिना किसी ठोस कारण अस्वीकृत की गई हैं उन पर पुनर्विचार करते हुए समय से उनका निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सभी रोजगार परक योजनाओं का व्यापक प्रचार प्रसार किया जाए जिससे अधिक से अधिक लोगों को इन योजनाओं से जोड़कर स्वाबलंबी एवं आत्मनिर्भर बनाया जाए। उन्होंने कहा कि पीएम स्वनिधि योजना केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजना है सभी बैंक समय से ऋण पत्रावली स्वीकृति एवं वितरण करें। उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए।जिलाधिकारी ने ऋण जमानुपात लगातार कम होने पर नाराजगी व्यक्त की। एसबीआई, बैंक आफ बडौ़दा, पंजाब नेशनल बैंक एवं जे.डी.सी. की स्थिति लगातार खराब रहने के कारण विशेष रुप से इनके जिला समन्वयक से इसका कारण पूछा गया और जल्द सुधार लाने के लिए निर्देशित किया गया।
जिलाधिकारी ने निर्देशित किया कि सभी बैंक अधिकारियों कृषि क्षेत्र के एन.पी.ए. खातो के लिये एकसमान ऋण समाधान योजना तैयार कर इस क्षेत्र के कृषकों के लिये राहत प्रदान करने की जरुरत है। जिलाधिकारी ने कहा कि शासकीय योजनायों मे जिन शाखायों मे बहुत ज्यादा ऋण प्रकरण लम्बित है उन शाखा प्रबंधको को कारण बतायो नोटस जारी किया जाये एवं जिन शाखा प्रबंधको मे अच्छा कार्य किया उन शाखायो को प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाये।
भारतीय रिजर्व बैंक के सहायक महाप्रबंधक शिवरंजन अधिकारी ने कहा कि भा.रि.बैं. ने ए.टी.एम. से संबंधित योजनायो के बारे मे बताया कि यदि किसी भी ए.टी.एम. मे अगर दस घंटे तक नगदी नही रहती है तो संबंधित बैंक पर जुर्माना लगाया जायेगा। उन्होंने कहा कि जनकल्याण योजना 02 अक्टूबर से लागू की जायेगी। बैंको के फसे ऋण (एनपीए)के संबंध की बसूली के संबंध मे जिलाधिकारी ने सभी बैंको से सबसे बड़े 50 डिफाल्टर की सूची शाखाबार एवं तहसीलबार मांगी है। जिसमे इंडियन बैंक, यूनियन बैंक, आर्यवर्त बैंक सेएक नोडल बसूली अधिकारी बनाने के बारे मे दिशा निर्देश दिये है जो कि हर सप्ताह संबंधित एसडीएम से सम्बन्ध स्थापित कर बसूली मे तेजी लाने के प्रयास करेगें। अग्रणी जिला प्रबंधक अनुपम कुमार गुप्ता ने कहा कि पीएमएसवी आत्मनिर्भर निधि मे केवल 1149 लाभार्थियो को ऋण प्रदान करना है जिसको शाखाये 13 सितम्बर तक कैम्प मोड मे हासिल करेगीं जिससे कि 6114 का लक्ष्य प्राप्त किया जा सके।
जिलाधिकारी ने सभी बैंको को निर्देश दिये कि अगामी 18 सितम्बर को मण्डल झाॅसी मे होने वाले मैगा क्रेडिट कैम्प मे सभी जिला समन्वयक अपनी तैयारी कर लंे एवं सभी लम्बित आवेदन को निस्तारित कर दे ताकि दिये गये 150 करोड़ के लक्ष्य को असानी से प्राप्त किए जा सके। एवं इसके अतिरिक्त निर्देश दिया कि लक्ष्य प्राप्त करना सभी बैंको के लिये अत्यावश्यक है। इस बैंठक के दौरान डीडीएम नाबार्ड प्रकाश ने नाबार्ड से जुडी़ योजनाओ के बारे मे बताया एवं उपनिदेशक कृषि आर.के.तिवारी. ने कहा कि किसान सम्मान निधि के शत प्रतिशत लाभार्थियो को किसान क्रेडिट कार्ड योजना से लाभार्थियो से लाभान्वित किया जाये।जिलाधिकारी ने सभी योजनाएं जैसे बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर, एनयूएलएम- पीएमएसवी आत्मनिर्भर, पं दीनदयाल अन्त्योदय योजना, पं दीन दयाल उपाध्याय स्वतः रोजगार योजना, एनआरएलएम एसएचजीसीसीएल लिकेंज, एमएमजीआरबाई, पीएमईजीपी, माटीकला, केसीसी, पशुपालन, मत्स्य, एमबाई एसबाई ,ओडीओपी, मुद्रा योजना कीे समीक्षा कीे और निर्देश दिये कि सभी योजनाओ के लक्ष्य 13 सितम्बर 2021 तक हर स्थिति मे प्राप्त कर ले। इसमे किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उपनिदेशक संस्थागत वित्त संजय कुमार ने के.सी.सी. व पशुपालन एवं मत्स्य घटक की प्रगति पर अंसतोष जताया एवं समस्त बैंको की समीक्षा की जिनमे ऋण प्रकरण लंबित है आर्यवर्त बैंक को जल्द से जल्द प्रगति बढ़ाने के निर्देश दिये। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अजय कुमार श्रीवास्तव, जिला विकास अधिकारी सुभाष चंद्र त्रिपाठी, लीड बैंक मैनेजर अनुपम गुप्ता, सीडीओ, एजीएम आर.बी.आई., डीडीआईएफ आगरा, डी.डी.ओ., डीसी मनरेगा, एनआरएलएम, डीडीएम नाबार्ड, प्रबंधक जिला उघोग केन्द्र ,एवं लाइन डिपार्टमेंट के अधिकारी व सभी बैंको के जिला समन्वयक उपस्थित रहे।

You may also like

Leave a Comment