Home राष्ट्रीय संघ के एजेंडे ”चादर और फादर मुक्त भारत” को आगे बढ़ाएगा विश्व हिंदू परिषद

संघ के एजेंडे ”चादर और फादर मुक्त भारत” को आगे बढ़ाएगा विश्व हिंदू परिषद

by Shrinews24
0 comment

संघ के एजेंडे ”चादर और फादर मुक्त भारत” को आगे बढ़ाएगा विश्व हिंदू परिषद

राहुल कुमार गुप्ता
मोहम्मद इरफ़ान
लखनऊ

लखनऊ उत्तर प्रदेश में अगले साल चुनाव होने हैं और चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में धार्मिक माहौल गरमाने की कवायद शुरू हो चुकी है। जुलाई के दूसरे सप्ताह में चित्रकूट में आरएसएस की एक महत्वपूर्ण बैठक हुई थी। यह बैठक पांच दिनों तक चली थी जिसमें संघ प्रमुख मोहन भागवत के साथ ही अखिल भारतीय स्तर के कई पदाधिकारी वहां पहुंचे थे। बैठक के बाद वहां से ” चादर मुक्त और फादर मुक्त भारत” का एक नारा निकला था। संघ ने हालांकि तब इस नारे को लेकर कोई बयान नहीं दिया था लेकिन बैठक के बाद जो जानकारियां सामने आईं थी उसके मुताबिक इस अभियान को और तेज करने की बात कही गई थी। संघ के उसी एजेंडे को अब विहिप अपने माध्यम से आगे बढ़ाएगा और उसने इसकी आधिकारिक घोषणा भी कर दी है।
दअसल 9 से 13 जुलाई को चित्रकूट में जो संघ की बैठक हुई थी वह यूपी चुनाव के लिहाज से काफी अहम थी। उस बैठक में ही यूपी चुनाव के एजेंडों पर चर्चा की गई थी। बैठक में संघ नेताओं ने कई अहम मुद्दों और शाखाओं को सक्रिय करने पर चर्चा हुई थी। पूरे मंथन के दौरान रामजन्मभूमि विवाद और धर्मांतरण का मुद्दा ही हावी रहा था। धर्मांतरण को लेकर चादर और फादर मुक्त भारत का नारा दिया गया था। वहीं राम मंदिर निर्माण की जमीन खरीदने को लेकर जो विवाद सामने आ रहे थे उसको लेकर ट्रस्ट के सचिव चंपत राय को तलब भी किया था। हालांकि यूपी चुनाव को देखते हुए तब उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई थी।
संघ के एक पदाधिकारी ने बताया कि,
” चादार मुक्त, फादर मुक्त भारत का नारा तो चित्रकूट की बैठक से ही निकला था। अब उस अभियान को किस तरह से आगे बढ़ाया जाएगा इस पर काम चल रहा है। इस एजेंडे को लेकर आनुसंगिक संगठनों को जिम्मेदार सौंपी गई है। वह अपने तरीके से काम करेंगे। पूरे यूपी में लव जिहाद और धर्मांतरण के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। ये मामले किसी से छिपे नहीं हैं। इन मामलों को लेकर सजग रहने की जरूरत है।”
चादर और फादर मुक्त भारत बनाने का विहिप का दावा
भारत को चादर और फादर मुक्त बनाने के अभियान को लेकर विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के केंद्रीय संयुक्त महामंत्री डॉ सुरेंद्र जैन कहते हैं कि,
”हम भारत को चादर और फादर से मुक्त करके रहेंगे। एक ओर जहां हिंसा, घृणा, वासना तथा महिला अत्याचार के लिए कुख्यात इस्लाम अपना जिहादी बर्चस्व बढ़ाने में लगा हुआ है, वहीं दूसरी ओर इसाई मिशनरियां अपने नए-नए प्रपंचों के माध्यम से भोले-भाले गरीब व वंचित समाज के लोगों को अपने जाल में फंसाने में लगी है। विश्व हिंदू परिषद भारत को उन षड्यंत्रकारियों से मुक्त मुक्ति दिलाएगा।”
हिन्दुओं के हत्यारे राष्ट्रपुरुष नहीं हो सकते
उन्होंने कहा कि हिंदुओं के हत्यारे कभी राष्ट्रपुरुष नहीं हो सकते। यह बात भारत सरकार ने मोपला हिंदू नरसंहार मैं शामिल 387 आक्रमणकारियों को भारत की स्वतंत्रता सेनानियों की सूची से बाहर करके स्पष्ट कर दी है। तालिबान व तालिबानी संस्कृतियों को मानने वाले व उनके समर्थकों को भारत में रहने का अधिकार नहीं है। हम भारत को अफगानिस्तान बनाने के उनके सपने को पूरा नहीं होने देंगे।
सुरेंद्र जैन ने कहा कि,
”विश्व हिंदू परिषद के 57 वर्ष के स्वर्ण इतिहास में राम मंदिर ,बाबा अमरनाथ, रामसेतु, साधु संत के संदर्भ में अनेक स्मरणीय कार्य किए हैं। हमने धर्मांतरण, लव जिहाद व गोवध रोकने व हिंदुओं को समृद्ध शाली, शक्तिशाली व स्वावलंबी बनाने की दिशा में अनेक कार्य किए हैं। आज से प्रारम्भ हुए पूरे सप्ताह में पूरे प्रांत में स्थापना दिवस के कार्यक्रम किए जाएंगे।

You may also like

Leave a Comment