Home उत्तर प्रदेश कोरोना वायरस से कृषकों की हुई मृत्यु पर उनके वारिशों को अपर जिलाधिकारी ने खतौनी उनके नाम अंकित कर खतौनी वितरित की

कोरोना वायरस से कृषकों की हुई मृत्यु पर उनके वारिशों को अपर जिलाधिकारी ने खतौनी उनके नाम अंकित कर खतौनी वितरित की

by Shrinews24
0 comment

कोरोना वायरस से कृषकों की हुई मृत्यु पर उनके वारिशों को अपर जिलाधिकारी ने खतौनी उनके नाम अंकित कर खतौनी वितरित की

फोटो-अपर जिलाधिकारी वारिशों खतौनी देती हुई

राहुल कुमार गुप्ता
नरेन्द्र शर्मा
कालपी जालौन

कालपी कालपी तहसील कालपी क्षेत्र में कोरोना वायरस से कृषकों की हुई मृत्यु पर उनके बारिशों को खतौनी पर नाम दर्ज करके तहसीलदार की मौजूदगी में अपर जिलाधिकारी पूनम निगम व उप जिलाधिकारी कौशल कुमार ने बारिश कृषक को खतौनी उपलब्ध कराई। तहसील कालपी के सभागार में गुरुवार को आयोजित कार्यक्रम में बारिशों को खतौनी देते हुए तहसीलदार बलराम गुप्ता ने अवगत कराया कि ग्राम मुसमरिया के शिव कुमार विश्वकर्मा तहसील कालपी में अधिवक्ता थे। जिनकी मृत्यु कोविड-19 के वजह से हो गई थी उनकी जमीन ग्राम छौंक में थी। जिसके बारे में परिजनों को जानकारी ना होने के कारण बारासत दर्ज नहीं की जा सकी थी। जिला प्रशासन द्वारा कोरोना से मृतक हुए कृषकों की विरासत जारी करने हेतु चलाए गए अभियान के क्रम में क्षेत्रीय लेखपालों तथा मेरे द्वारा प्रयास से यह पता चला कि इनकी भूमि ग्राम छौंक में है ।उक्त जमीन पर तत्परता से कार्यवाही करते हुए अधिवक्ता के परिजनों पत्नी राजकुमारी तथा पुत्र प्रदुमन का नाम राजस्व रिकॉर्ड में दर्द करते हुए एसडीएम कौशल कुमार के द्वारा खतौनी दी गई।इसके अलावा ग्राम मगरौल के मृतक जिनकी पत्नी अकबरपुर इटौरा में रहती है अपर जिलाधिकारी पूनम निगम ने तहसीलदार की मौजूदगी में बारिश प्रमाण पत्र उपलब्ध कराया। उन्होंने साथ में यह भी अवगत कराया की कोविड-19 बीमारी से मृत्यु हुए व्यक्तियों की सूची ऐसे पांच के साथ थे जिनकी विरासत की कार्रवाई नहीं की जा सकी थी। जिसे तत्परता से करते हुए उन्हें खतौनी की प्रति उपलब्ध करा दी गई है ।साथ ही ऐसे व्यक्ति जो भूमिहीन हैं उन्हें आवास व कृषि के पट्ठे प्राथमिकता के आधार पर किए जाएंगे।

You may also like

Leave a Comment