Home उत्तर प्रदेश ब्लाक कसमंडा में प्रमुख पद के नामांकन को लेकर सत्ता पक्ष की तरफ से की गई अंधाधुन्ध फायरिंग व बरसे देशी बम कई घायल

ब्लाक कसमंडा में प्रमुख पद के नामांकन को लेकर सत्ता पक्ष की तरफ से की गई अंधाधुन्ध फायरिंग व बरसे देशी बम कई घायल

by Shrinews24
0 comment

ब्लाक कसमंडा में प्रमुख पद के नामांकन को लेकर सत्ता पक्ष की तरफ से की गई अंधाधुन्ध फायरिंग व बरसे देशी बम कई घायल ।

श्री न्यूज़ 24/
चंद्र प्रकाश पाण्डेय
सीतापुर

कमलापुर-सीतापुर । जनपद सीतापुर के विकास खण्ड कसमंडा में ब्लाक प्रमुख चुनाव का आज नामांकन चल रहा था उसी दौरान बीजेपी समर्थक प्रत्याशी गुड्डी देवी व निर्दलीय प्रत्याशी मुन्नी देवी के समर्थकों के बीच अचानक ब्लॉक के गेट पर बवाल होने लगा जिसमें भाजपा समर्थित प्रत्याशी के पक्ष की तरफ से गोली व हथगोला चलने लगे जिसके बाद बीजेपी समर्थक प्रत्याशी के समर्थकों ने निर्दलीय प्रत्याशी मुन्नी देवी को अगवा कर लिया ।
निर्दलीय प्रत्याशी के समर्थक व पुलिस के अधिकारियों ने तत्काल बीजेपी समर्थकों का पीछा करते हुए निर्दलीय प्रत्याशी को अपहर्ताओ से छुडाया ।
विकास क्षेत्र कसमंडा मे आज दिनांक08/07/2021को प्रमुख पद के नामांकन को लेकर सत्ता पक्ष की दावेदार गुड्डी देवी की तरफ से विपक्षी मुन्नी देवी को नामांकन स्थल से चंद कदम की दूरी पर ही पुलिस बल के सामने भाजपा समर्थकों द्वारा रोक लिया गया। भारी पुलिस बल की मौजूदगी में लगभग 10 मिनट तक दोनों पक्षों की नोकझोंक होती रही लेकिन प्रशासन व पुलिस बल अनजान बना रहा जिसमें सत्ता पक्ष की तरफ से अंधाधुन्ध फायरिंग होने लगी व देशी बम फटने लगे। जिसमें अखण्ड प्रताप सिंह निवासी कमलापुर , अनुपम सिंह उर्फ पकडू सिंह निवासी बम्हेरा , पिन्कू यादव निवासी भेलाहार सहित कई लोग घायल हो गए । अपराधी घटना को अंजाम देने की पूरी तैयारी से आए हुए थे। जो कि घटना को अंजाम देकर मौके से फरार हो गए और प्रशासन व भारी संख्या मे मौजूद पुलिस बल तमाशबीन बना देखता रहा।
घटना के बाद सीतापुर के जिलाधिकारी विशाल भारद्वाज व पुलिस अधीक्षक आर पी सिंह व कई क्षेत्राधिकारी एवं कई थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गयी पूरे ब्लाक परिसर को छावनी मे तब्दील कर दिया गया । प्रशासन ने मामला गम्भीर होने के बाद भारी पुलिस प्रशासन के बीच निर्दलीय प्रत्याशी का नामांकन कराया ।अब प्रशासन हर बिन्दु की गहनता से जांच करने मे लगा है । प्रदेश की बीजेपी सरकार भ्रष्टाचार व गुंडाराज मुक्त कराने की वाहवाही लूटने मे लगी है।लकिन घटना की स्थितियां कुछ और ही बयां करती हैं। लगता है कि प्रशासन व पुलिस बल सत्ता पक्ष के दबाव में कार्य करता नजर आया ।

You may also like

Leave a Comment