Home उत्तर प्रदेश लाखों का सरकारी धन खर्चने के बाद भी राहगीर प्यासे, साल भर में ही फेल हुई वाटर कूलर की बोरिंग

लाखों का सरकारी धन खर्चने के बाद भी राहगीर प्यासे, साल भर में ही फेल हुई वाटर कूलर की बोरिंग

by Shrinews24
0 comment

लाखों का सरकारी धन खर्चने के बाद भी राहगीर प्यासे, साल भर में ही फेल हुई वाटर कूलर की बोरिंग

नगर पालिका ने पिछले साल सिद्धेश्वर मंदिर पर लगवाया था वाटर कूलर, कराई थी बोरिंग

राहुल कुमार गुप्ता
ब्रजेन्द्र गुप्ता
कोच जालौन

कोंच सरकारी कामकाज में किस तरह से गुणवत्ता की धज्जियां उड़ाई जाती हैं इसका जीता जागता उदाहरण है मोहल्ला तिलक नगर नईबस्ती स्थित सिद्धेश्वर मंदिर पर लगा वाटर कूलर जिसकी बोरिंग साल भर में ही फेल हो गई। बताया गया है कि इसके पाइप ही फट गए हैं जिसकी वजह से उसमें मिट्टी युक्त पानी आ रहा है। इलाकाई बाशिंदों ने इसकी शिकायत एसडीएम/ पालिका के प्रभारी अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार से की है। नागरिकों ने शिकायती पत्र में बताया कि नगरपालिका परिषद ने राहगीरों की प्यास बुझाने के लिए सिद्धेश्वर मंदिर जहां गायत्री जागरण मंच स्थापित किया जाता है, पर वाटर कूलर पिछले बर्ष स्थापित कराया था। इसकी पानी की जरूरत को पूरा करने के लिए वाटर कूलर के पास ही बोरिंग भी कराई गई थी। पिछले कुछ दिनों से बोरिंग में कीचड़ या मिट्टी युक्त पानी आ रहा है जिसे पिया नहीं जा सकता है। जानकार लोगों का कहना है कि बोरिंग के पाइप फट गए हैं इसलिए मिट्टी आ रही है। बड़े ही आश्चर्य का बिषय है कि साल भर में ही बोरिंग ध्वस्त हो गई और लाखों का सरकारी धन जो जनता की खून पसीने की कमाई का है, पानी में चला गया है। उन्होंने मांग की है कि बोरिंग सही कराई जाए या ठीक नहीं होने की स्थिति में रीबोर कराया जाए ताकि जिस मकसद से वाटर कूलर लगाया गया था वह पूरा हो सके और राहगीरों की प्यास बुझ सके। इसी के साथ इस मामले की गहराई से जांच भी कराई जाए ताकि इस तरह का बोगस काम करा कर सरकारी धन की बर्बादी करने बालों के खिलाफ समुचित कार्रवाई की जा सके। शिकायत करने बालों में विनोद कुमार, भरत, सतीश, राहुल, सुरेंद्र, संतोष कुमार आदि शामिल रहे। इस मामले को गंभीरता से लेकर पालिका के आरआई सुनील यादव को जांच कर उन्हें रिपोर्ट देने के निर्देश दिए हैं।

You may also like

Leave a Comment