Home उत्तर प्रदेश विद्युत आपूर्ति का हाल- बीती रात हर 15 मिनट बाद आई और गई बिजली

विद्युत आपूर्ति का हाल- बीती रात हर 15 मिनट बाद आई और गई बिजली

by Shrinews24
0 comment

विद्युत आपूर्ति का हाल- बीती रात हर 15 मिनट बाद आई और गई बिजली

रात्रि 9:00 बजे से शुरू हुआ सिलसिला सुबह 4:00 बजे तक चला
नींद तो दूर गर्मी से बेहाल हुए बच्चे बूढ़े और जवान

राहुल कुमार गुप्ता
ब्रजेन्द्र गुप्ता
उरई जालौन

उरई भीषण गर्मी के साथ-साथ विद्युत महकमे ने भी लोगों की मुसीबत में इजाफा कर दिया है बीती रात तो यह आलम रहा कि रात्रि 9:00 बजे से बिजली के आने-जाने का सिलसिला शुरू हुआ तो सुबह 4:00 बजे तक अनवरत चलता रहा और इस दरमियान डेढ़ दर्जन से अधिक बार 15 मिनट के अंतराल में बिजली लुका छुपी का खेल खेलती रही और इस बीच बच्चे जवान और बूढ़े सभी बेहाल हो गए कई घरों में तो लोग भीषण गर्मी के चलते बीमार होने की नौबत में भी आ गए।
बीते 1 सप्ताह के दौरान विद्युत आपूर्ति की व्यवस्था जिस कदर से गड़बड़ाई है उसकी चरण सीमा बीती रात बुधवार को रात्रि 9:00 बजे के बाद देखने को मिली जब हर 15 मिनट के बाद यकायक बिजली चली गई और फिर थोड़ी देर बाद आई तो मगर फिर थोड़ी देर बाद यही आलम रहा कमोबेश यही स्थिति सुबह 9:00 बजे तक ऐसे ही चलती रहे इस बीच लोग भीषण गर्मी से बिलबिला कर कभी खुली छत का सहारा लेते दिखाई दिए तो कभी घर के बाहर बरामदे और सड़क तक पर भी टहलते नजर आए परेशानी इस कदर बढ़ गई थी कि लोग विद्युत महकमे को कोसते भी नजर आए उनकी समझ में यह नहीं आ रहा था कि आखिर क्यों हो रहा है क्या वजह है कि बिजली हर 15 मिनट के बाद आती है और चली जाती है उल्लेखनीय है कि बीते कुछ दिनों पूर्व ही जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने मुख्यालय स्थित सब स्टेशनों का औचक निरीक्षण कर जिम्मेदार अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए थे कि वह विद्युत आपूर्ति को सुचारू रूप से संचालित कराएं और जो भी तकनीकी खराबी मशीनरी इत्यादि में है उसे तत्काल दुरुस्त कराएं लेकिन जिला अधिकारी के निरीक्षण के बाद तो विद्युत महकमे के जिम्मेदार अधिकारियों ने उनके निर्देशों का पालन करने की बजाय उन्हें ताक पर रख जिस तरह से विद्युत आपूर्ति का ढर्रा बना रखा है उसने आम जनजीवन को त्राहि-त्राहि करने को विवश कर दिया है लोगों की माने तो जिस तरह से बीते कुछ दिनों के दौरान तापमान में यकायक वृद्धि हुई है और देर रात में भी बिजली के बिना बंद कमरों में लोगों का दम घुटने लगा है ऐसे में विद्युत आपूर्ति का यह रवैया उनके स्वास्थ्य को लेकर गंभीर चुनौतियां खड़ी कर रहा है लोगों का साफ कहना है कि जिला प्रशासन इस मामले में गंभीरता से कदम नहीं उठाता तो कोरोना से भी कहीं अधिक मुसीबत उनके लिए अब विद्युत आपूर्ति बन गई है। लोगों ने जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन से मांग की है कि बच्चों को भीषण गर्मी से निजात दिलाने के लिए विद्युत की आपूर्ति को रात्रि के समय सुचारू रूप से कराने की दिशा में कारगर कदम उठाएं।

You may also like

Leave a Comment