Home उत्तर प्रदेश उत्तर परेश में बढ़ती साइबर ठगी पर इलाहाबाद HC सख्त, UP साइबर सेल से मांगा बीते 1 साल का ब्योरा

उत्तर परेश में बढ़ती साइबर ठगी पर इलाहाबाद HC सख्त, UP साइबर सेल से मांगा बीते 1 साल का ब्योरा

by Shrinews24
0 comment

उत्तर परेश में बढ़ती साइबर ठगी पर इलाहाबाद HC सख्त, UP साइबर सेल से मांगा बीते 1 साल का ब्योरा

राहुल कुमार गुप्ता
मोहम्मद इरफ़ान
लखनऊ

लखनऊ प्रदेश में साइबर क्राइम की बढ़ती घटनाओं के प्रति इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सख्त रुख अपनाया है। हाईकोर्ट ने कहा कि फ्राड कर बैंक खाते से धन निकासी समाज के विरूद्ध एक गंभीर अपराध है। पुलिस नियंत्रण के गंभीर प्रयास नहीं कर रही है। हाईकोर्ट ने पुलिस अधीक्षक साइबर सेल (SP), लखनऊ से एक साल में साइबर क्राइम की हुई घटनाओं और उनमें हुई कार्रवाइयों का ब्यौरा मांगा है। कोर्ट ने SP साइबर सेल से व्यक्तिगत हलफनामा मांगा है। जस्टिस शेखर कुमार यादव की बेंच इस मामले की सुनवाई कर रही है।
कोर्ट ने एक साल में हुई साइबर ठगी की प्रोग्रेस रिपोर्ट मांगी
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने SP साइबर सेल से जो व्यक्तिगत हलफनामा मांगा है उसमें उन्हें एक साल में कुल मामलों की संख्या, कितने रुपये की कुल ठगी हुई और कितने मामलों में रिकवरी हुई, कितनी रिकवरी हुई इसका ब्यौरा देना होगा। एक साल में दर्ज मुकदमों की प्रोग्रेस रिपोर्ट कोर्ट के सामने रखनी होगी।
साइबर ठगी रोकने को क्या उपाय किया?
इलाहाबाद हाईकोर्ट ने SP साइबर सेल से यह भी पूछा है कि साइबर क्राइम को रोकने के लिए अभी तक क्या उपाय किए गए हैं। मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने तल्ख टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा कि साइबर क्राइम को लेकर पुलिस अफसरों का रवैया लापरवाही भरा है। साइबर ठगी एक गंभीर समस्या है और पुलिस इसको लेकर गंभीर नहीं है।
रिटायर्ड जज के साथ हुई ठगी के मामले की हो रही सुनवाई
इलाहाबाद हाई कोर्ट के एक रिटायर्ड जज के साथ पिछले दिनों बड़ी ठगी हुई थी। इस मामले में जब पुलिस का रवैया संतोषजनक नहीं रहा तो उन्होंने हाईकोर्ट में याचिका दायर की। इस मामले की सुनवाई करते हुए सोमवार को कोर्ट ने सख्त रुख अपनाया है। मामले की अगली सुनवाई 9 जुलाई को होगी। अगली सुनवाई पर प्रयागराज के एसपी क्राइम समेत कई अन्य अफसरों को भी व्यक्तिगत रूप से तलब किया गया है।

You may also like

Leave a Comment