Home उत्तर प्रदेश बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय की जयंती पर किया गया वंदे मातरम का सामूहिक गायन

बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय की जयंती पर किया गया वंदे मातरम का सामूहिक गायन

by Shrinews24
0 comment

बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय की जयंती पर किया गया वंदे मातरम का सामूहिक गायन

श्री न्यूज24
अभिषेक गुप्ता

27 जून प्रयागराज/ प्रयागराज। वंदे मातरम गीत के लेखक बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय जयंती (२७ जून) के अवसर पर आज उन्हें याद करते हुए उपस्थित जन समुदाय ने वंदे मातरम का सामूहिक गायन किया ।
प्रयागराज गौरव अनुभूति आयोजन समिति के तत्वावधान में राम वाटिका कर्नलगंज में आयोजित बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय जयंती कार्यक्रम के संयोजक काशी प्रांत भाजपा उपाध्यक्ष अवधेश चंद्र गुप्त में इस अवसर पर कहा कि वंदे मातरम गीत से आजादी की लड़ाई का नया सवेरा उदित हुआ। उन्होंने कहा कि प्रयाग का बहुत ही पुराना गौरवशाली इतिहास रहा है। प्रयास के गौरव को बनाए रखने के लिए प्रयागराज गौरव अनुभूति आयोजन समिति ने इस कार्यक्रम का आयोजन करते हुए यह संकल्प लिया है कि आने वाले समय में इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन होता रहेगा। ताकि प्रयाग व देश की गरिमा के बारे में आने वाले पीढ़ी को समुचित ज्ञान दिया जा सके। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि काशी विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति तथा इलाहाबाद विश्वविद्यालय के प्रोफ़ेसर डॉ गिरीश चंद्र त्रिपाठी ने वंदे मातरम गीत को भारत की आजादी का महत्वपूर्ण गीत बताया ।उन्होंने कहा कि इस तरह के आयोजन से समाज के सभी वर्ग के लोगों को देश भक्ति और देश के बारे में जानने का अवसर मिलता है ।उन्होंने कहा कि अंग्रेजी शासनकाल में हमारा देश दासता की बेड़ियों में जकड़ा हुआ था ।उस दौर में वंदे मातरम गीत के गायन से लोगों में नए उत्साह और जोश का संचार हुआ । देश को आजाद कराने में बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय और उनके गीत वंदे मातरम की महत्वपूर्ण भूमिका रही है ।
फूलपुर क्षेत्र के सांसद केसरी देवी पटेल विधायक सुरेंद्र चौधरी महानगर बीजेपी अध्यक्ष श्री गणेश चंद्र केसरवानी वरिष्ठ पत्रकार रतन दीक्षित पूर्व महानगर अध्यक्ष रणजीत सिंह के अलावा अन्य कई गणमान्य लोगों ने कार्यक्रम में विचार व्यक्त किए। कार्यक्रम शुरू होने से पूर्व आयोजन समिति के संयोजक अवधेश चंद्रगुप्त ने आए हुए अतिथियों का स्वागत किया । इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आयोजन समिति द्वारा भविष्य में इस तरह के अन्य कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे । और आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी के सभी कार्यक्रमों में सबसे पहले वंदे मातरम का गायन होता है।
कार्यक्रम का संचालन वेद पांडे ने किया
आज भी इस गीत की प्रासंगिकता है। बंकिमचंद्र चट्टोपाध्याय का नाम भारत के इतिहास में हमेशा अमर रहेगा।
इस कार्यक्रम में महत्वपूर्ण लोगों की उपस्थिति व्रतसिल शर्मा जी वेद प्रकाश पांडेय जी माया दिवेदी राजेश केशरवानी सुरेश चन्द्रा अरुण अग्रवाल संजय गुप्ता
इंदीयन प्रेस प्रतिनिधि अमिंदर घोष संगीतकार सुधांशु दुबे अनिल भट्ट विजयश्रीवास्तव
डॉ शैलेश कुमार अश्वनी पटेल दिलीप श्रीवास्तव अरुण अग्रवाल वरुण केसरवानी विवेक अग्रवाल माया द्विवेदी प्रेमा श्रीवास्तव रेखा यादव अंजलि गोस्वामी वर्षा जायसवाल पूनम तिवारी आभा सिंह शोभिता श्रीवास्तव नितिन स्मार्टी चेतना ओझा लोकेश मुखर्जी धीरेंद्र भट्टाचार्य राजेश वर्मा वैभव जायसवाल सचिन जायसवाल कृतज्ञ नारायण त्रिपाठी अभिषेक गुप्ता विश्वास श्रीवास्तव विशाल कुमार अश्वनी पटेल मनोज कुशवाहा अतुल खन्ना पीयूष मारवाड़ी आदि सैकड़ों लोगों ने सामूहिक रूप से राष्ट्र गीत वंदे मातरम का गायन किया।

You may also like

Leave a Comment