Home उत्तर प्रदेश विधवा महिला ने मुख्यमंत्री से लगायी गुहार: अपनो द्वरा जमीन हड़पने का है मामল

विधवा महिला ने मुख्यमंत्री से लगायी गुहार: अपनो द्वरा जमीन हड़पने का है मामল

by Shrinews24
0 comment

विधवा महिला ने मुख्यमंत्री से लगायी गुहार: अपनो द्वरा जमीन हड़पने का है मामল

श्री न्यूज 24/ साप्ताहिक अदिति न्यूज़
ध्रुव ज्योति नन्दी, वाराणसी

उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जनपद की विधवा सखी मिश्रा अपना ही जमीन खाली कराने व बचाने के लिए दर-दर भटक रही हैं,न्याय की गुहार लगाते हुए आला अधिकारियों सहित यशस्वी मुख्यमंत्री माननीय योगी आदित्य नाथ से न्याय की भीख मांग रही है। सखी मिश्रा की जमीन हड़पने वाला कोई और नही उसका जेठ व जेठ के बेटे हैं।जी हां ! यह दर्द कोई और नही अपनों ने दिया है।जहाँ एक तरफ मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश भयमुक्त प्रदेश का दावा कर रहे हैं वही दूसरी तरफ एक बेबस लाचार व विधवा महिला अपनी जमीन दबंगो के कब्जे से छुड़ाने के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगा रही है।
मामला उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जनपद के राजपुर चिल्ली राकस मिश्रन का पुरवा निवासी सखी मिश्रा का है जो 2005 में विधवा हो गयी और किसी तरह अपने बच्चों की पढ़ाई-लिखाई व परवरिश कर अपना जीवन यापन कर रही है।सखी मिश्रा पत्नी स्व०संतोष मिश्रा के जेठ रामनरेश मिश्रा व उनके पुत्र सुशील मिश्रा तथा सुनील मिश्रा एंव रानी मिश्रा पत्नी सुशील मिश्रा गुंडई व दबंगई के बल पर सखी मिश्रा के हिस्से में मिली पैतृक जमीन में जोर जबरदस्ती निर्माण कार्य करा रहे हैं।जबकि सखी मिश्रा इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को देकर न्याय की गुहार भी लगाई लेकिन पुलिस द्वारा स्टे लेने की बात कही गयी उसने कोर्ट से स्टे भी ले लिया लेकिन निर्माण कार्य रोकवाने में पुलिस नाकाम रही।इससे पुलिस की कार्यवाही पर भी सवाल उठता नजर आ रहा है।
सखी मिश्रा के जमीन पर उपरोक्त लोगों द्वारा भवन निर्माण सामग्री गिराकर निर्माण कार्य शुरू कर दिया गया जिसका विरोध करने पहुंची सखी मिश्रा के साथ उन लोगो ने अभद्र व्यवहार किया और जमीन खाली न करने की धमकी भी दे डाली।इस पर पीडिता ने स्थानीय पुलिस की शरण मे जाकर न्याय की गुहार लगायी, लेकिन वहाँ से भी उसे निराशा हाथ लगी।अब पीड़िता यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ उत्तर प्रदेश सरकार को पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगा रही है , देखना है भय मुक्त राम राज्य की सरकार में पीड़िता को न्याय मिल पाता है या नही।

You may also like

Leave a Comment