Home उत्तर प्रदेश लखनऊ नाला न होने से पी जी आई के निकट चरन भट्ठा रोड स्थित कालोनिया बनी तालाब

लखनऊ नाला न होने से पी जी आई के निकट चरन भट्ठा रोड स्थित कालोनिया बनी तालाब

by Shrinews24
0 comment

लखनऊ नाला न होने से पी जी आई के निकट चरन भट्ठा रोड स्थित कालोनिया बनी तालाब

श्री न्यूज 24 व आदिति न्यूज़ एवं यूट्यूब चैनल लखनऊ

प्रवीन सैनी लखनऊ

राजधानी के पीजीआई के निकट चरन भट्ठा रोड स्थित पंचम खेड़ा रायल सिटी इंद्रपुरी मीरा बिहार समेत कई कालोनियों की सड़के एक घंटे की बरसात में तालाब बन गई चरन भट्ठा रोड स्थित कालोनियों में हल्की बारिश में हो जाता है सड़को पर जल भराव जिसका सबसे बड़ा कारण की इस क्षेत्र में जल निकासी के लिए नाले का ना होना जिसके कारण चरण भट्ठा और रोड स्थित सभी कालोनियों में आम दिनों में भी होता है जलभराव नालियों का गंदा पानी बहता है सड़कों पर वही जिम्मेदार विभाग की बात करें तो वह बना हुआ है मूकदर्शक वरिष्ठ समाजसेवी एवं मिशन मोदी संगठन एकता भारत के राष्ट्रीय अध्यक्ष अजय कुमार सिंह पिछले चार-पांच वर्षों से लगातार क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों एवं जिम्मेदार विभाग को अवगत करा रहे हैं जलभराव की समस्या से साथ ही कर रहे हैं नाला निर्माण कार्य करवाने का अनुरोध परंतु जिम्मेदार विभाग जनप्रतिनिधियों फिर चाहे वह क्षेत्र के सांसद व विधायक हो या मेयर हो सभी से कर रहे हैं चरण भट्टा रोड पर नाला निर्माण कार्य करवाने का अनुरोध जिससे क्षेत्र की जनता को जलभराव की समस्या से मिल सके छुटकारा परंतु जिम्मेदार कर रहे जनता की समस्याओं को अनदेखा इसी का खामियाजा क्षेत्र की जनता को जलभराव की समस्या से भुगतना पड़ रहा है डॉ अजय कुमार सिंह लगातार शासन प्रशासन को पत्राचार के द्वारा करा चुके हैं अवगत चरण भट्ठा रोड पर नाला निर्माण कार्य के लिए कर चुके हैं अनुरोध परंतु अब तक किसी प्रकार की भी कार्यवाही नहीं हुई नाला निर्माण कार्य को लेकर जिसके चलते आम जनता को हो रही है भारी परेशानी आपको बताते चलें कि चरण भट्टा रोड कोई पर आज की बनी हुई कालोनिया नहीं है पिछले 20 वर्षों से स्थित है मवैया शीतल खेड़ा पंचम खेड़ा समेत अन्य कालोनियां सभी ने जलभराव की होती है समस्या डॉ अजय कुमार सिंह लगातार सभी से नाला निर्माण करने के आदेश के लिए कर रहे हैं पत्राचार लेकिन शासन-प्रशासन है कि नहीं सुन रहा जनता की समस्याएं आखिर क्यों नही दूर हो रही जनता की समस्या जब राजधानी लखनऊ में नही सुनी जा रही है जनता की समस्याएं तो अन्य जिलों का क्या हाल होगा इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है

You may also like

Leave a Comment