Home उत्तर प्रदेश नोडल अधिकारी ने एकीकृत कोविड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का किया निरीक्षण

नोडल अधिकारी ने एकीकृत कोविड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का किया निरीक्षण

by Shrinews24
0 comment

नोडल अधिकारी ने एकीकृत कोविड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का किया निरीक्षण

सूर्यांश श्रीवास्तव
श्री न्यूज़ 24/दैनिक अदिति न्यूज़
जिला थाना प्रभारी
प्रयागराज

नोडल अधिकारी ने बैठक कर कोविड से बचाव हेतु की गयी व्यवस्थाओं का लिया जायजा, दिये आवश्यक दिशा निर्देश
कौशाम्बी-16 मई 2021
नोडल अधिकारी श्री सुधीर महादेव बोबडे़ सदस्य (न्यायिक) राजस्व परिषद ने रविवार को जनपद में बनाये गये एकीकृत कोविड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर का निरीक्षण किया। निरीक्षण में नोडल अधिकारी ने कोविड कमाण्ड सेन्टर में तैनात अधिकारियों एवं कर्मचारियों के साथ बैठक कर कोविड-19 से बचाव हेतु की गयी तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी प्राप्त की। इसके पश्चात उन्होंने गांवो व कस्बों में बनायी गयी निगरानी समितियों से फोन द्वारा लोगों के स्वास्थ्य परीक्षण एवं चिहिंत धनात्मक कोविड मरीजों का हाल चाल लेने के संबंध में जानकारी प्राप्त की। नोडल अधिकारी ने कोविड धनात्मक मरीजों से भी फोन द्वारा बात-चीत कर उनके स्वास्थ्य एवं उपचार के बारे में जानकारी प्राप्त की। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी से कोविड-19 की वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी प्राप्त की। इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 पीएन चतुर्वेदी ने बताया कि वर्तमान समय में पुराने कोविड कन्ट्रोल रूम को अपग्रेड किया गया है उसमें जनता की समस्याओं का निराकरण करने हेतु 16 लैण्डलाइन नम्बर, 12 हाइस्पीड नेट कनेक्टिविटी के साथ, 12 कम्प्यूटर लगाये गये है, जिनके संचालन हेतु 16 आपरेटर एवं प्रत्येक आठो ब्लॉकों में 02-02 कम्प्यूटर आपरेटर तैनात किये गये है। कोविड कन्ट्रोल सेन्टर में 02 डॉक्टर, 70 कार्मिक जिनमें शासन के निर्देशानुसार पुलिस, खाद्य सुरक्षा, राजस्व, मेडिकल एवं आपूर्ति सहित अन्य अधिकारी तैनात किये गये है। इसके अलावा एम्बुलेंस एवं शव वाहन भी उपलब्ध है। जनपद में एल-01 फैसलिटी में 50 बेड तथा एल-02 में कुल 100 बेडों की व्यवस्था उपलब्ध है। वर्तमान लहर के दौरान अब तक किसी भी मरीज को वेटिंग का सामना नहीं करना पड़ा है। जिला चिकित्सालय में ऑक्सीजन की भी उपलब्धता है। जनपद में कुल 39 आर0आर0टी0 टीमों का गठन किया गया है, जिनके द्वारा किये जा रहे कार्य भ्रमण व उनकी उपस्थिति सूचना कन्ट्रोल रूम से लिया जाता है, इसके पश्चात रात्रि कालीन बैठक में उनसे चर्चा होती है। कोविड वैक्सिनेशन के बाद लोगों को होने वाली परेशानियों के संबंध में कन्ट्रोल रूम में तैनात डॉक्टरों द्वारा फोन पर बात-चीत कर उन्हें राहत दिलाने का कार्य किया जाता है। कन्ट्रोल रूम द्वारा प्रतिदिन जनपद के 451 ग्रामीण एवं 95 नगरीय निगरानी समितियों में से लगभग एक तिहाई से रैण्डम आधार पर वार्ता करने के पश्चात जो फीडबैक प्राप्त होता है उसके अनुसार कोविड जॉच साफ-सफाई, सेनेटाइजेशन की व्यवस्था सुनिश्चित की जाती है। इस अवसर पर जिलाधिकारी श्री अमित कुमार सिंह ने नोडल अधिकारी को आश्वस्त करते हुए कहा कि जनपद में कोविड संक्रमण से बचाव व राहत हेतु सभी आवश्यक व्यवस्थायें पहले से ही पूर्ण की जा चुकी हैं। इस मौके पर अपर जिलाधिकारी श्री मनोज, कोविड कन्ट्रोल रूम प्रभारी श्री विनय कुमार गुप्ता, सह प्रभारी श्री मनीष यादव, डॉ0 हिन्द प्रकाशमणि सहित संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

You may also like

Leave a Comment