Home उत्तर प्रदेश महामारी में उपयोगी है तरबूज का बीज कृषि विज्ञान केंद्र ने दी सलाह

महामारी में उपयोगी है तरबूज का बीज कृषि विज्ञान केंद्र ने दी सलाह

by Shrinews24
0 comment

महामारी में उपयोगी है तरबूज का बीज कृषि विज्ञान केंद्र ने दी सलाह

श्रीन्यूज़24
खबर जो आप चाहते है

कृषि विज्ञान केंद्र ,लखीमपुर खीरी

प्रिय किसान साथियों ,

इस महामारी में उपयोगी है तरबूज के बीज का सेवन :

तरबूज गर्मियों के मौसम का फल है जो अधिकांश लोग पसंद करते हैं। इसके सेवन से शरीर में पानी की कमी दूर होती है। प्रायः लोग तरबूज खाकर इसके बीजों को फेंक देते हैं, जबकि इसके बीज विभिन्न पोषक तत्वों से युक्त होने के कारण शरीर के लिए लाभदायक होते हैं। इसके बीजों को उबाल एवं भूनकर सेवन करने से शरीर को विभिन्न लाभ होते हैं। इसमें फास्फोरस, पोटैशियम, मैग्नीशियम और तांबे जैसे कई पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

  1. हृदय को स्वस्थ रखने में सहायक :चूंकि इसमें काफी मात्रा मे मैग्नीशियम होता है जो हृदय की सुरक्षा करने में मदद करता है। इसके साथ साथ यह रक्त चाप को संतुलित रखता है ।
  2. चेहरे की झुर्रियां साफ करने में उपयोगी : तरबूज के बीजों में एंटीऑक्सीडेंट गुण ( मुक्त कणों को खत्म करने वाले) होते हैं जो चेहरे पर होने वाली झुर्रियों की समस्या को रोकने में सहायक होते हैं। इसके प्रयोग से त्वचा आकर्षक और स्वस्थ होती है।
  3. मधुमेह में सहायक :उबले बीजों के सीरप का प्रतिदिन खाली पेट पीने से मधुमेह के रोगी को काफी लाभ होता है।
    4.प्रजनन क्षमता को स्वस्थ रखने में सहायक*:इसके बीजों में लाइकोपीन नामक एंटीऑक्सीडेंट होता है जो लोगों में प्रजनन शक्ति को बढ़ाने में फायदेमंद होते हैं। इसके लिए उन्हे रोजाना अपने खाने में तरबूज के सूखे बीजों का प्रयोग करना चाहिए।
  4. प्रतिरक्षण शक्ति को बढ़ाने में सहायक: तरबूज के बीजों में काफी मात्रा में मैग्नीशियम होता है जो शरीर को बीमारियों से बचाव में मदद करता है। शरीर में सफेद रक्त काशिकाएं बनने में तरबूज के बीज सहायक होते हैं। 6.मोटापा सामान्य करने में सहायक*: तरबूज के बीज में प्रचुर मात्रा में फाइबर और एमीनो एसिड पाया जाता है जो चयापचय को बढ़ाता है जिससे जो लोग इसके बीजों का सेवन करते है उनके शरीर का वजन सामान्य रहता है।

7.रक्त शर्करा को सामान्य रखने में सहायक :तरबूज के बीजों के सेवन से रक्त शर्करा सामान्य रहती है क्योंकि यह शरीर में इंसुलिन स्तर को सामान्य रखता है। तरबूज के बीजों में ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी एसिड्स पाए जाते हैं जो शर्करा के स्तर को सामान्य रखते हैं।
उपयोग करने की विधि :
तरबूज के बीजों को पका कर सेवन करना : तरबूज के 20 – 30 बीज पीसकर 2 लीटर पानी में 15 मिनट तक उबाल कर ठंडा कर लेने पर एक सिरप बन जाता है। इसे दो दिन में पी लेना चाहिये। हफ्ते में दो बार यह प्रक्रिया दोहराने से सेहत से जुड़ी तमाम समस्याएं दूर हो जाती है।

सुखाकर सेवन की विधि : सारे बीजों को तरबूज से निकालकर बाहर करके धूप में अच्छी तरह सुखा लेना चाहिए । इसके बाद इसको हवाबंद डिब्बे में रख लेना चाहिए । जब खाना हो तब इसे भूनकर खाइए और अपनी ,अपने परिवार को इस महामारी के दौर में स्वस्थ रखिए। साथ ही साथ कोविड १९ के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए ,स्वस्थ रहें , सुरक्षित रहें और जरूरी कामों के लिए ही बाहर निकलें।
डॉ . जिया लाल गुप्ता ,वैज्ञानिक कृषि प्रसार

You may also like

Leave a Comment